संसार का नवीन धर्म-अघ्यात्म

नये संसार का निर्माण

क्या हमारे लिए यही उचित है ?

कर्मयोग, ज्ञानयोग और भक्तियोग की साधना

संकीर्णता के सीमा बंधन से छुटकारा पाए

आत्मविश्वास ईश्वर का अजस्त्र वरदान

आत्मापरिष्कार से परब्रह्म की प्राप्ति

प्राणशक्ति एक जीवंत उर्जा

परमात्मा को भूलो मत

परमात्मा को भूलो मत

प्रार्थना आत्मा का संबल

%d bloggers like this: